e-mail : abdulhamid97@gmail.com

Tuesday, 1 December 2020 - 2:00am

Report by : ALI AHAMD

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर एथेनॉल उत्पादन की दर निर्धारित करने के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा धन्यवाद देने का स्वागत कर कहा है कि शक्ति उपासना के अवसर पर मुख्यमंत्री बघेल को आई सदबुद्धि स्थायी हो।श्रीवास्तव ने साथ ही यह भी कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री सिर्फ़ धन्यवाद ही न दें बल्कि अब तक प्रधानमंत्री श्री मोदी और केंद्र सरकार के ख़िलाफ़ छत्तीसगढ़ के साथ सौतेले व्यवहार का दुष्प्रचार करने के लिए माफ़ी भी मांगें, क्योंकि केंद्र सरकार ने बिना किसी राजनीतिक पक्षपात के छत्तीसगढ़ को हर क़दम पर उसकी अपेक्षा से अधिक ही सहायता मुहैया कराई है।

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता श्रीवास्तव ने कटाक्ष किया कि राहुल गांधी ने कभी एथेनॉल को लेकर भाजपा की केंद्र सरकार का मख़ौल यह कहकर उड़ाया था कि लोगों के पास खाने के लिए चावल नहीं है और भाजपा की सरकार चावल से एथेनॉल बनाने की सोच रही है, अब इसी एथेनॉल के लिए छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री बघेल ने प्रधानमंत्री के धन्यवाद पत्र भेजा है। श्रीवास्तव ने कहा कि भाजपा की प्रार्थना है कि जो सद्बुद्धि मुख्यमंत्री बघेल को मिली है, वही सद्बुद्धि कांग्रेस नेता राहुल गांधी को मिले ताकि अंध राजनीतिक विरोध से उबरकर वे भी सर्वकल्याणकारी राजनीतिक चिंतन से जुड़ें और कांग्रेस नेता केवल विरोध के लिए विरोध की संकीर्ण राजनीति से उबरकर और एक स्वस्थ व सकारात्मक विपक्ष की भूमिका निभाकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व केंद्र सरकार के ख़िलाफ़ कोरे दुष्प्रचार से बाज आएँ। श्री श्रीवास्तव ने कहा कि मौज़ूदा प्रदेश सरकार राजनीतिक प्रतिशोधवश शुरू से ही केंद्र सरकार के साथ टकराव की नीति पर चल रही है। अब उम्मीद की जानी चाहिए कि प्रदेश सरकार और कांग्रेस झूठ और दुष्प्रचार की राजनीति से उबरेंगे।

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता श्रीवास्तव ने याद दिलाया कि प्रधानमंत्री मोदी और उनके नेतृत्व वाली केंद्र सरकार ने हर मौक़ों पर छत्तीसगढ़ के हितों को सर्वोपरि रखा और अपेक्षानुरूप या उससे अधिक ही छत्तीसगढ़ को ज़रूरी मदद मुहैया कराई। कोरोना संकट के इस दौर में केंद्र सरकार ने संसाधनों व आर्थिक रूप से हरसंभव मदद की। प्रदेश सरकार ने जब कोरोना संकट के मद्देनज़र केंद्र सरकार नि:शुल्क राशन के लिए तीन माह की अवधि बढ़ाने की मांग की तो केंद्र सरकार ने तुरंत पाँच माह तक नि:शुल्क राशन देने का एलान किया। अब प्रदेश सरकार ने वह राशन उठाया नहीं और अब उसे लेकर केंद्र सरकार के ख़िलाफ़ प्रलाप कर रही है। श्रीवास्तव ने कहा कि प्रदेश सरकार की भावनाओं का सम्मान करके केंद्र सरकार ने इस खरीफ सत्र से छत्तीसगढ़ से पिछले वर्ष की तुलना में डेढ़ गुना ज़्यादा यानी 60 लाख मीट्रिक टन चावल ख़रीद रही है और इसके एवज में केंद्र सरकार ने चावल के मूल्य की राशि 09 हज़ार करोड़ रुपए भी प्रदेश को प्रदान कर दिए हैं, तो अब प्रदेश सरकार इसका पूरा लाभ प्रदेश के अन्नदाताओं को दे।

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता श्रीवास्तव ने कहा कि किसानों के लिए केंद्र सरकार की योजनाओं को प्रदेश में बाधित कर किसानों को उनके हक़ से वंचित रखकर प्रदेश सरकार सस्ती राजनीति कर रही है। नए कृषि क़ानूनों को लेकर प्रदेश सरकार और कांग्रेस लगातार दुष्प्रचार कर रही है, जबकि कृषि क़ानूनों के इन्हीं प्रावधानों को कांग्रेस लागू करने का वादा कर रही थी। पंजाब सरकार ने नए कृषि क़ानून के नाम पर जो नौटंकी की है, ज़ाहिर है प्रदेश सरकार भी ऐसी नौटंकी से बाज नहीं आएगी। श्री श्रीवास्तव ने कहा कि एपीएमसी और एमएसपी को लेकर लगातार झूठ और भ्रम फैलाने में लगी प्रदेश सरकार और कांग्रेस पहले प्रदेश की ज़मीनी सच्चाई को देखने का साहस दिखाए जहाँ प्रदेश सरकार ने पिछले वर्ष के ख़रीदे गए धान की पूरी क़ीमत किसानों को नहीं चुकाई है। इस कारण किसान औने-पौने दाम पर अपनी उपज बेचने को विवश हो रहे हैं और शर्मनाक स्थिति तो यह है कि एमएसपी-एपीएमसी के नाम पर प्रलाप करने वाली सरकार की नाक के नीचे किसानों का धान मंडी में 600-700 रुपए प्रति क्विंटल के भाव बिक रहा है!
-------------------------

शेयर करे

Add new comment

जनता की राय

अपनी राय दीजिये ,26 जनवरी में कागज के तिरंगे पर प्रतिबंध लगाना चाहिए ताकी उसका अपमान न हो ?

User login