e-mail : abdulhamid97@gmail.com

Monday, 6 December 2021 - 11:51pm

बेमेतरा। जिला मे किसानो के हित में मृदा एवं जलसंरक्षण के कार्य कृषि विभाग द्वारा किए जा रहे है। इस परिप्रेक्ष्य में राजेश सिंह निदेशक (जलग्रहण प्रबंधन), भारत सरकार, भूमि संसाधन विभाग, ग्रामीण विकास मंत्रालय, नई दिल्ली द्वारा बेमेतरा में किए जा रहे भूमि एवं जलसंरक्षण कार्यो का निरीक्षण किया गया। उन्होने सर्वप्रथम ग्राम हथमुड़ी में जलसंरक्षण अंतर्गत बनाए गए चेक डेम का निरीक्षण करते हुए जलसंरक्षण के प्रति हर्ष व्यक्त किया साथ ही निदेशक द्वारा कृषको से मिलकर चर्चा करते हुए उन्हे जो चेक डेम से हो रहे लाभ एवं उसकी महत्ता के संबंध में चर्चा की गई।
किसानो ने बताया कि कृषि विभाग द्वारा निर्मित चेक डेम से न केवल उन्हे कृषि में सिंचाई हेतु पर्याप्त पानी मिल पा रहा है साथ ही साथ पानी की उपलब्धता के कारण दोहरी फसल लेने पर उनकी आजीविका के स्त्रोत एवं उनकी आर्थिक उन्नति हुई है। तत्पश्चात् निदेशक द्वारा बेमेतरा के करूवानाला ग्राम उघरा एवं ओटेबंद में मृदा संरक्षण अंतर्गत गली चेक व घोरेघाटनाला के ग्राम लालपुर में चेकडेम का अवलोकन किया गया जिसमें ग्राम लालपुर में चेकडेम के बनने से वहॉ का जलस्तर ऊपर आ गया जिससे हैंडपंप स्वत: चल रहा है, और करमतरा में बने चेक डेम से संरक्षित जल का सब्जी बाड़ी और अन्य फसल में उपयोग किया जा रहा है। निदेशक द्वारा कृषि विभाग के अमलो को उनके किए गए कार्यो के प्रति हर्षप्रद सराहना व्यक्त की गई। निरीक्षण के दौरान संयुक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री वी.के.वर्मा, जी.आई.एस.एक्सपर्ट एस.डी.के.कुशवाहा, अनुविभागीय कृषि अधिकारी बेमेतरा श्री आर. के सोलंकी, सहायक भूमि संरक्षण अधिकारी बेमेतरा श्री पी.डी. हथेश्वर, जलसंरक्षण के मैदानी अमले एवं कृषक उपस्थित थे।

शेयर करे

Add new comment

जनता की राय

कोरोना से बचने के लिए लोगों को मास्क लगाना जरूरी है कि नहीं

User login