e-mail : abdulhamid97@gmail.com

Monday, 8 March 2021 - 12:10am

REPORT BY
NADEEM

रायपुर वर्षों से सत्ता के आस में बैठे वर्तमान सरकार के नेता मंत्रियों का एक अलग ही रूप देखने को मिल रहा है जी हां हम बात कर रहे हैं कांग्रेस सरकार के नगरी निकाय मंत्री शिव डहरिया के बारे में मंत्री डहरिया की बहन मठपुरैना के मानस पुरम नामक सोसाइटी में निवास करती है। मंत्री महोदय को अपनी बहन के यहां जाने में सड़क यातायात बाधित लगता है। इस वजह से उन्होंने मानस पुरम मार्ग में रहने वाले एवं दुकानों का संचालन करने वाले दुकानदारों और रहवासियों को अपनी जमीन का कागज प्रस्तुत करने का नोटिस थमा दिया और इस नोटिस पर साफ-साफ यह भी लिखा है कि अगर 3 दिन के भीतर आपके द्वारा कागज प्रस्तुत नहीं किया जाता है तो आपके ऊपर वैधानिक कार्रवाई करते हुए आपके मकान को तोड़ दिया जाएगा । अब निवासियों को यह लग रहा है कि सरकार उन पर बलात हटाने की साजिश रच रही है मठ पुरैना निवासियों का यह भी कथन है कि उनकी बहन के यहां निवास स्थल में मंत्री जी के आवागमन में यदि दिक्कत आ रही है तो अपनी बहन को किसी पॉश क्षेत्र में मकान दिलादे ताकि उनकी आवागमन में हो रही बाधित यातायात से छुटकारा मिल जाए और स्थानीय निवासियों पर कागज पत्री दिखाने से भी निजात मिल जाएगी बहरहाल, मंत्री जी के इस तुगलकी फरमान से क्षेत्र के निवासी खासे परेशान है और उन्हें सरकार से राहत की उम्मीद लगा बैठे है कि इस संबन्ध में कोई कारगर कदम उठाएगी उल्लेखनीय है कि दैनिक समाचार पत्रों में राज्य शासन दारा यह कहा गया था कि वर्षों से जो शासकीय भूमि अधिकतम सात हजार पांच सौ स्केयर फीट में जो निवासरत है उसे रजिस्ट्री कर आधिकारिक रूप से स्वामी बनाया जाएगा जबकि वहां वर्षों से निवासरत रहवासियो द्वारा प्रायवेट जगह क्रय कर ली गई है फिर भी एक ओर सरकार बेजा कब्जा धारियों को रजिस्ट्री करवा कर उन्हें व्यवस्थापित करवा रही है वही मूल भू स्वामियों को आवास दुकान का रजिस्ट्री दस्तावेज मांग कर नाहक परेशान कर रही है

शेयर करे

Add new comment

जनता की राय

अपनी राय दीजिये ,26 जनवरी में कागज के तिरंगे पर प्रतिबंध लगाना चाहिए ताकी उसका अपमान न हो ?

User login